---------Sponsered Ads---------

किसान ड्रोन योजना: Kisan Drone Yojana 5 लाख रुपये की सब्सिडी, लाभ एवं पात्रता | ड्रोन सब्सिडी कैसे मिलेगी

---------Sponsered Ads---------

सारांश : किसान ड्रोन योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन करें – Kisan Drone Subsidy Yojana ऑनलाइन पंजीकरण, आवेदन पत्र पीडीएफ डाउनलोड, पात्रता, लाभार्थी सूची, भुगतान / राशि की स्थिति, सुविधाएँ, लाभ और ऑफिसियल वेबसाइट  पर ऑनलाइन आवेदन की स्थिति की जाँच करें ।

किसान ड्रोन योजना 2022

इस योजना की मदद से किसानों को कम कीमत में खेती के लिए इस्तेमाल किये जाने वाले ड्रोन (Drone For Farming) दिए जाएंगे। इस योजना के अंतर्गत किसानों को ड्रोन के लागत मूल्य पर 40 से 75 प्रतिशत तक की सब्सिडी (Kisan Drone Price Subsidy) मिलेगी। योजना से जुड़ने के बाद सरकार किसानों को अधिकतम 5 लाख रुपये तक की आर्थिक सहायता अनुदान के तौर पर प्रदान करेगी। सरकार ने ड्रोन अनुदान योजना को शुरू किया है, जिससे किसान कम दाम में इस आधुनिक यंत्र (Kisan Drone Yantra Price) को खरीद पाएंगे। 

सभी आवेदक जो ऑनलाइन आवेदन करने के इच्छुक हैं, फिर आधिकारिक अधिसूचना डाउनलोड करें और सभी पात्रता मानदंड और आवेदन प्रक्रिया को ध्यान से पढ़ें। हम “ किसान ड्रोन योजना 2022 ” के बारे में संक्षिप्त जानकारी प्रदान करेंगे जैसे योजना लाभ, पात्रता मानदंड, योजना की मुख्य विशेषताएं, आवेदन की स्थिति, आवेदन प्रक्रिया और बहुत कुछ।

पीएम किसान 12वी किस्त

---------Sponsered Searches---------

Table of Content

किसान ड्रोन योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन पत्र

Kisan Drone Yojana Online Registration, Application Form PDF Download, Eligibility, Features, Benefits

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन ने बजट-2022-23 (Budget 2022-23) में कृषि क्षेत्र के लिए बड़े प्रोत्साहन की घोषणा की थी। साथ ही उन्होंने यह भी कहा था, ड्रोन विकास सरकार की प्रमुख चार प्राथमिकताओं में से एक होगा। इसे ध्यान में रखते हुए सरकार ने प्रधानमंत्री किसान ड्रोन सब्सिडी योजना (PM Kisan Drone Subsidy Yojana) को शुरू किया है।

केंद्र ने व्यक्तिगत तौर पर भी ड्रोन खरीद के लिए आर्थिक मदद देने का फैसला किया है. जिसके तहत अनुसूचित जाति, जनजाति, लघु और सीमांत किसानों, महिलाओं एवं पूर्वोत्तर राज्यों के किसानों के लिए ड्रोन खरीदने के लिए लागत का 50 प्रतिशत या अधिकतम 5 लाख रुपये की आर्थिक मदद (Financial Assistance) दी जाएगी. जबकि अन्य किसानों को 40 प्रतिशत या अधिकतम 4 लाख रुपये की सहायता मिलेगी.

फार्म मशीनरी ट्रेनिंग और परीक्षण संस्थानों, भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (ICAR) के संस्थानों, कृषि विज्ञान केंद्रों व राज्य कृषि विश्वविद्यालयों को ड्रोन की खरीद के लिए लागत के 100 फीसदी की दर से सहायता प्रदान की जाएगी। किसान उत्पादक संगठन (FPO) को खेतों पर प्रदर्शन के लिए कृषि ड्रोन लागत का 75 फीसदी तक अनुदान दिया जाएगा। 

किसान ड्रोन क्या हैं?

किसान ड्रोन में कीटनाशकों और पोषक तत्त्वों से भरा एक मानवरहित टैंक होता है। ड्रोन में लगभग 5 से 10 किलोग्राम की उच्च क्षमता मौजूद होती है। ड्रोन द्वारा सिर्फ 15 मिनट में करीब एक एकड़ ज़मीन पर 5 से 10 किलोग्राम कीटनाशक का छिड़काव किया जा सकेगा। इससे समय की बचत होगी, कम मेहनत में छिड़काव समान रूप से किया जाएगा। उनका उपयोग खेतों से सब्जियों, फल, मछली आदि को बाज़ारों तक ले जाने के लिये भी किया जाएगा।  इन वस्तुओं की आपूर्ति कम-से-कम नुकसान के साथ सीधे बाज़ार में की जाएगी जिसमें कम समय लगेगा, परिणामस्वरूप किसानों और मछुआरों को अधिक लाभ होगा।

UP Kisan Karj Rahat List

किसान ड्रोन योजना के तहत दिया जाने वाले अनुदान

इस योजना के तहत कृषि कार्यों के लिए ड्रोन खरीदने पर अलग-अलग वर्ग एवं क्षेत्र के कृषकों को अलग-अलग अनुदान प्रदान किया जाएगा। जिसका विवरण निम्नलिखित इस प्रकार है।

संबंधित वर्ग एवं क्षेत्रअनुदान विवरण
एससी-एसटी, छोटे एवं सीमांत, महिलाओं और पूर्वोत्तर राज्यों के किसानों को50% या अधिकतम ₹500000
अन्य किसानों को40% या अधिकतम ₹400000
किसान उत्पादक संगठन (FPO) को75%
कृषि मशीनरीकरण पर उप मशीन के तहत मान्यता प्राप्त कृषि ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट या कृषि विज्ञान केंद्रों को100% यानी निशुल्क

ड्रोन उड़ाने के लिए निर्धारित शर्तें

  • हाईटेंशन लाइन या मोबाइल टावर वाली जगहों पर अनुमति लेनी जरूरी है।
  • ग्रीन जोन के क्षेत्र में ड्रोन के माध्यम से दवाई छिड़काव नहीं कर सकेंगे।
  • खराब मौसम या तेज हवा में ड्रोन उड़ाने पर मना है।
  • रहवासी क्षेत्र के आसपास खेती होने पर अनुमति लेनी जरूरी है।

Kisan Drone Yojana 2022 – Overview

योजना का नामकिसान ड्रोन योजना
भाषा मेंKisan Drone Yojana
शुरू की गईप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा
लाभार्थीदेश के किसान 
योजना का उद्देश्यकृषि ड्रोन खरीदने पर अनुदान प्रदान करना 
योजना के तहतराज्य सरकार
राज्य का नामसभी राज्य में
पोस्ट श्रेणीयोजना/Yojana
आधिकारिक वेबसाइटNot Available

कृषि क्षेत्र में क्या काम करेगा ड्रोन

फसल मूल्यांकन, लैंड रिकॉर्ड के डिजिटलीकरण, कीटनाशकों व पोषक तत्वों के छिड़काव के लिए ‘किसान ड्रोन’ के उपयोग को सरकार बढ़ावा दे रही है, जिसका बजट में भी प्रावधान किया गया है। देश के कृषि क्षेत्र (Agriculture Sector) का आधुनिकीकरण प्रधानमंत्री मोदी के एजेंडे में है। ताकि किसानों को नई तकनीक का फायदा पहुंचे। इस टेक्नोलॉजी को किसानों के लिए किफायती बनाने की कोशिश जारी है.

  • ड्रोन का बागवानी फसलों पर होने वाले स्प्रे में बहुत अच्छा इस्तेमाल हो सकता है।
  • खेती-किसानी में ड्रोन को प्रमोट करने के लिए इसकी खरीद में विभिन्न वर्गों को छूट प्रदान की गई है।
  • किसानों के व्यापक हित को देखते हुए कृषि कार्यों में ड्रोन के उपयोग की पहल की गई है।

ड्रोन उड़ाने के लिए किसानों को दिया जाएगा प्रशिक्षण

केंद्र सरकार द्वारा Kisan Drone Yojana के तहत किसानों को ड्रोन उड़ाने के लिए  प्रशिक्षण भी प्रदान किया जाएगा। यह प्रशिक्षण किसानों को कृषि विज्ञान केंद्रों एवं कृषि महाविद्यालयों में दिया जाएगा। किसानों को यह प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए  किसी भी तरह का कोई शुल्क अदा करने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि सरकार द्वारा ड्रोन उड़ाने का प्रशिक्षण बिल्कुल निशुल्क उपलब्ध करवाया जाएगा।

किसान ड्रोन योजना 2022 के उद्देश्य

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी का Kisan Drone Yojana को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य देश के किसानों को कृषि ड्रोन खरीदने के लिए प्रोत्साहित करना है। क्योंकि कृषि ड्रोन के माध्यम से कृषक अपनी खेती पर बड़े पैमाने पर खाद एवं अन्य कीटनाशकों का आसानी से छिड़काव कर सकते हैं। इसके लिए केन्द्र सरकार खेती-किसानी में ड्रोन तकनीक के बढ़ते उपयोग को देखते हुए उनकी खरीद पर किसानों को 100 प्रतिशत तक या अधिकतम 5 लाख की सब्सिडी उपलब्ध करवा रही है। सरकार द्वारा ड्रोन तकनीक पर सब्सिडी उपलब्ध करने मुख्य उद्देश्य है कि किसानों को कृषि संबंधित परेशानियों को दूर कर उनकी आय में वृद्धि करना है।

Kisan Drone Yojana के लाभ एवं विशेषताएं

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा Kisan Drone Yojana को शुरू किया गया है।
  • समावेशी ड्रोन विकास सुनिश्चित करने हेतु पहली बार बजट 2022 में इस पहल की घोषणा की गई थी।
  • इस योजना को ड्रोन के माध्यम से फसल मूल्यांकन, लैंड रिकॉर्ड के डिजिटलीकरण, कीटनाशकों व पोषक तत्वों के छिड़काव के लिए बढ़ावा  देने के लिए शुरू किया गया है।
  • सरकार कृषि ड्रो न की खरीद पर अनुसूचित जाति-जनजाति, लघु और सीमांत, महिलाओं एवं पूर्वोत्तर राज्यों के किसानों को ड्रो न लागत की 50 प्रतिशत या अधिकतम 5 लाख रुपए की सहायता राशि दी जाएगी।
  • अन्य किसानों को 40 प्रतिशत अथवा अधिकतम 4 लाख रुपए की सहायता राशि दी जाएगी।
  • वहीं कृषि मशीनरी प्रशिक्षण और परीक्षण संस्थानों, नों आईसीएआर संस्थानों, नों कृषि विज्ञान केंद्रों और राज्य कृषि विश्वविद्यालयों को ड्रो न की खरीद पर 100 प्रतिशत सब्सिडी दी जा सकती है।
  • इससे पहले सरकार ने देश में ड्रोन के आयात पर प्रतिबंध लगा दिया था ताकि देश के भीतर ही ड्रोन के निर्माण को प्रोत्साहित किया जा सके (ड्रोन शक्ति योजना)।
  • जनवरी, 2022 में किसानों हेतु ड्रोन को अधिक सुलभ बनाने के उद्देश्य से ‘कृषि मशीनीकरण पर उप-मिशन’ (SMAM) योजना के लिये संशोधित दिशा-निर्देश जारी किये गए थे।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 

किसान ड्रोन योजना के ​​लिए आवेदन कैसे करें

इसके तहत केंद्रीय कृषि मंत्रालय ने कृषि ड्रो न की खरीद, किराए पर लेने और प्रदर्शन में सहायता करके इस तकनीक को किफायती बनाने के लिए आईसीएआर संस्थानों, नों कृषि विज्ञान केंद्रों और राज्य कृषि विश्वविद्यालयों को वित्त पोषण दिशा-निर्देश जारी किए गए है।

Leave a Comment

---------Sponsered Ads---------